Connect with us

Banking

हरियाणा महिला विकास निगम के ऋणों के बकाया ब्याज को माफ करने के लिए वन टाइम सेटलमेंट (ओटीएस) योजना शुरू

Published

on

Haryana government took a big decision

Page Media: – हरियाणा सरकार ने महिलाओं के हित में एक बड़ा फैसला लेते हुए हरियाणा महिला विकास निगम (Haryana Women Development Corporation) के ऋणों के बकाया ब्याज को माफ करने के लिए वन टाइम सेटलमेंट (OTS) योजना शुरू की है। इसके तहत यदि लाभार्थी मूल ऋण की पूरी बकाया राशि का भुगतान एकमुश्त या 6 किस्तों में एक दिसंबर, 2022 तक लौटाता है तो उसका सारा ब्याज माफ कर दिया जाएगा।

सरकारी प्रवक्ता ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया

यह योजना उन ऋणियों को कवर करेगी जिनका ब्याज 31 मार्च 2019 को निगम को भुगतान के लिए बकाया है। योजना 31 मार्च 2019 को डिफॉल्ट रूप से मूल राशि पर लागू होगी, लेकिन उसके बाद भुगतान की गई मूल राशि शामिल नहीं होगी। उन्होंने बताया कि ऋण लेने वालों को 6 महीने के भीतर इसका लाभ उठाने की अनुमति दी जाएगी।

एकमुश्त या किश्तों में छह महीने के भीतर

यदि ऋणी बकाया मूल राशि को एकमुश्त या किश्तों में छह महीने के भीतर चुका देता है तो वह लाभार्थी महिला ब्याज की 100 फीसदी छूट के लिए पात्र होगी। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि छूट का लाभ ऋणी को बकाया मूलधन की अंतिम किश्त के भुगतान के समय दिया जाएगा। ब्याज में छूट केवल उन्हीं कर्जदारों को दी जाएगी जो 6 माह के भीतर पूरी बकाया मूल राशि का भुगतान कर देंगे।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Banking

केनरा बैंक द्वारा स्थापना दिवस पर किया छात्राओं को सम्मानित

Published

on

Canara Bank honored the girl students on the foundation day

Page Media: – उपायुक्त जितेंद्र यादव के दिशा निर्देश पर जिला भर में केनरा बैंक द्वारा 116 स्थापना दिवस मनाया गया। केनरा बैंक के 116 वें स्थापना दिवस (116th Foundation Day of Canara Bank) पर क्षेत्रीय कार्यालय प्रमुख अभय कुमार सिंह के मार्ग दर्शन में कारपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व गतिविधियों के तहत वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सीकरी तथा माध्यमिक विद्यालय बघेल में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की मेधावी छात्राओं को छातवृति देकर पुरूस्कार प्रदान (Awarded by giving scholarship to girl students) किया गया।

विद्यालय में आधुनिक शौचालय

इसी प्रकार प्रबंधक अमित सक्सेना द्वारा गांव सीही के वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में आधुनिक शौचालय बनवाया (Modern toilet constructed in the school) जाने के लिए शिल्यान्यास किया। आपको बता दें सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार केनरा बैंक ने अपना 116 स्थापना दिवस आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की छात्राओं को छात्रवृत्ति प्रदान करके स्कूल में ही आधुनिक सुविधाओं से युक्त शौचालय निर्माण (Construction of toilets with facilities) के लिए बैंक शाखा के अधिकारियों द्वारा शिल्यान्यास किया गया।

116 स्थापना दिवस कारपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व गतिविधियों के तहत मनाया

जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक सुजान सिंह ने बताया कि केनरा बैंक ने अपना 116 स्थापना दिवस कारपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व गतिविधियों के तहत मनाया सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार मनाया जा रहा है। एनआईटी के क्षेत्रीय कार्यालय में भी सीएसआर गतिविधियों के क्रियान्वयन के लिए बैंक अधिकारियों के साथ केनरा बैंक के स्थापना दिवस को सैलीब्रेट किया गया।
केनरा बैंक स्थापना दिवस के अवसर पर प्रबंधक अमित सक्सेना, प्रबंधक मेघा बंसल, स्कूल के प्रिंसिपल जयप्रकाश, स्कूल अध्यापक कुसुम लता सहित कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

Continue Reading

Banking

विभिन्न सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों को समय पर ऋण उपलब्ध करवाएं बैंक

Published

on

Banks should provide timely loans to the beneficiaries of various government schemes

Page Media: – डीसी जितेंद्र यादव (DC Jitender Yadav) ने बैंकरों को निर्देश दिए हैं कि जो इस साल सितंबर के अंत तक काम से कम दो प्रार्थिओ को सरकार की योजनाओं के अंतर्गत ऋण उपलब्ध करवा कर योजनाओं को लागू करे। ताकि आत्म निर्भर भारत (Atmanirbhar bharat) मिशन के लक्ष्य को पूरा किया जा सके।

डीएलआरसी (DLRC) की बैठक

जो बैंक अपने सभी लक्ष्य को प्राप्त नहीं कर पाए हैं, वे सभी लक्ष्य पूरा कर लें और वे बैंकर अगली डीएलआरसी की बैठक (Meeting of DLRC) से पहले सरकारी योजना को लागू नहीं करेंगे तो संबंधित बैंकों के खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। यह दिशा निर्देश उपायुक्त जितेंद्र यादव गत जून तिमाही के लिए जिला की डीएलआरसी / डीसीसी बैठक लघु सचिवालय, सेक्टर -12 फरीदाबाद में आयोजित बैठक में बैंक अधिकारियों को दे रहे थे।

एलडीएम ने सभी बैंकों के लिए जिला फरीदाबाद के लक्ष्यों के साथ-साथ सरकार द्वारा प्रायोजित योजनाओं, एमएसएमई, लघु व्यवसाय, मुद्रा ऋण, स्टैंड अप इंडिया, एसएचजी के लिए महिलाओं के उत्थान और सशक्तिकरण के लक्ष्यों के बारे में जानकारी दी गई।

लक्ष्यों को प्राप्त करना सुनिश्चित करें

योगेश अग्रवाल एजीएम आरबीआई (AGM RBI) ने भी सभी बैंकर्स को कहा कि सभी सरकारी प्रायोजित योजनाओं को लागू करने और समय सीमा के भीतर लक्ष्यों को प्राप्त करना सुनिश्चित करें। विनय कुमार त्रिपाठी एजीएम नाबार्ड सभी बैंकों के अधिकारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि सरकार द्वारा घोषित गरीब लोगों और किसानों के लाभ के लिए सरकारी प्रायोजित सब्सिडी योजनाओं का लाभ दें।

बैठक की अध्यक्षता उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बैठक की अध्यक्षता की । जबकि बैठक मेंं एडीसी सतबीर मान भी मौजूद थे।
उपायुक्त जितेंद्र यादव को एलडीएम आरएस सिंह द्वारा सम्मानित किया गया और एडीसी सतबीर मान को एलबीओ साहिल शर्मा ने, विनय कुमार त्रिपाठी एजीएम नाबार्ड को सतीश कुमार अग्रवाल डीएम केनरा बैंक के आरओ द्वारा सम्मानित किया गया।

Continue Reading

Banking

देश के सबसे बड़े कर्जदाता ने त्यौहारी सीजन से पहले होम लोन पर दी राहत

Published

on

Page Media: – भारतीय स्टेट बैंक (SBI) देश के सबसे बड़े कर्जदाता ने होम लोन (home loan) की दरों पर कई नई राहत दी है। बैंक ने होम लोन की किसी भी राशि के लिए ब्याज दर घटाकर 6.70 फीसद कर दिया है। साथ ही इसके लिए ग्राहक का सीबिल स्कोर बेहतर होना चाहिए। इससे पहले बैंक ने 75 लाख रूपये से कम की होम लोन मांग पर यह दर रखी थी।

न्यूनतम ब्याज दर 7.15 फीसद

अगर किसी ग्राहक को उससे अधिक लोन कि जरूरत थी तो उसकी न्यूनतम ब्याज दर 7.15 फीसद थी। भारतीय स्टेट बैंक ने ग्राहकों के लिए अब यह सीमा खत्म कर दी है। बैंक के अनुसार अब 75 लाख रूपये से अधिक का लोन लेने वालों के लिए ब्याज दर 40 आधार अंक तक कम हो जाएगा। इससे तीस वर्षो कि अवधि के लिए 75 लाख रूपये तक का होम लोन लेने वाले ग्राहकों का कुल ब्याज 8 लाख रूपये से अधिक घट जाएगा।

0.15% अधिक ब्याज नहीं देना होगा

अब गैर- वेतनभोगी ग्राहकों को ज्यादा ब्याज नहीं देना होगा। एसबीआई ने गैर- वेतनभोगी वर्ग को भी होम लोन (home loan) में राहत दी है। इससे पहले बैंक गैर- वेतनभोगी ग्राहकों को वेतनभोगी ग्राहक के मुकाबले 15 आधार अंक अधिक दर पर होम लोन देता था। गैर- वेतनभोगी ग्राहक को 0.15% अधिक ब्याज नहीं देना होगा।

प्रोसेसिंग फीस को पहले ही शून्य कर

बैंक के एमडी ने कहा है, आमतौर पर ग्रहकों को छूट के साथ होम लोन एक सीमित रकम तक ही दिए जाते रहे है। लेकिन हमने अपने आफ़र को सभी प्रकार के ग्राहकों के लिए समान कर दिया है। खास बात ये है कि एसबीआई ने होम लोन (home loan) पर प्रोसेसिंग फीस को पहले ही शून्य कर दिया है।

Continue Reading

Trending

Copyright © 2020 www.industrialbureau.net